LATEST:


विजेट आपके ब्लॉग पर

शुक्रवार, अगस्त 24, 2012

बैकफुट पर न्यजीलैंड की टीम

हैदराबाद टेस्ट पहले दिन की समाप्ति पर यहाँ बराबरी पर था वहीं  दूसरे दिन की समाप्ति पर भारत की गिरफ्त में है । न्यजीलैंड की टीम बैकफुट पर है  और यह करिश्मा किया है भारतीय स्पिनरों ने । भारतीय बल्लेबाजी सम्भावनाओं के मुताबिक पुजारा और धोनी के जाते ही सिमट गई । इस मैच में बल्लेबाजों ने अपना काम लगभग पूरा कर दिया था इसलिए निचले क्रम का रन न बनाना खला नहीं लेकिन बड़े मैचों में यह काफी बड़ी कमजोरी है । भारत की सातवीं विकेट 411 पर गिरी और भारतीय टीम 438 पर सिमट गई यानि अंतिम तीन विकट मात्र 27 रन जोड़ पाए। भारत अगर टेस्ट क्रिकेट में अपना दबदबा बनाना चाहता है तो निचले क्रम को भी रन बनाने होंगे ।
                      यहाँ तक गेंदबाजी का प्रश्न है भारतीय पिचों पर भारतीय स्पिनर विदेशी टीमों के लिए टेढ़ी खीर होते हैं । न्यूजीलैंड का इस तरह समर्पण कोई हैरानीजनक बात नहीं ।हाँ यदि न्यूजीलैंड मैच को रोमांचक बना पाया तो यह अवश्य हैरानीजनक बात होगी  । दूसरे दिन के खेल के बाद लगता है कि भारत को जीत की खुशबू अभी से आने लग गई है , हालांकि होने को कुछ भी हो सकता है । अभी काफी क्रिकेट होनी है लेकिन फिलहाल न्यजीलैंड भारत के पंजे में फंस चुका है । तीसरे दिन भारत न्यूजीलैंड को जल्दी से जल्दी समेटना चाहेगा । फिलहाल तो लगता है कि भारतीय टीम न्यजीलैंड को फालो आन की स्थिति में ले आए । यदि ऐसा हुआ तो भी सम्भावन यही है कि भारतीय टीम फालो आन शायद ही दे और वे खुद रन बनाकर न्यूजीलैंड को लक्ष्य दें । अभी काफी समय बाकी है इसलिए यही रणनीति उपयुक्त रहेगी । 
                     यहाँ से भारतीय टीम को यह मैच जीतना ही चाहिए और गेंदबाज तीसरे दिन ही यह निश्चित करना चाहेंगे ।

                    *******************         

1 टिप्पणी:

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक (उच्चारण) ने कहा…

बहुत सुन्दर प्रस्तुति!
--
इस प्रविष्टी की चर्चा कल रविवार (26-08-2012) के चर्चा मंच पर भी होगी!
सूचनार्थ!

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...